FREEDOM OF MONEY & FREEDOM OF TIME

Posted on at


                उलट कर धार नई  राह पर चल सकता हूँ ,मैं हर पिंजरे से हो आज़ाद निकल सकता हूँ
                  ज़रा सी आँख मैं एम्बर से ऊँचे जो बसे ,वो सारे ख़वाब हकीकत मैं बदल सकता हूँ

सपने आशाएँ इक्छाए यही है इंसान के जीने का ज़ज्बा और ज़रुरत,ज़िंदगी एक दरिया है तो सागर से बड़े सपने,  और इन सपनो को हकीकत में बदलना ही है ज़िंदगी, आँख ने जिस दिन दुनिया देखनी शरू कि मन ख़वाइशे पालने लगा ,सारी दुनिया पाने कि, सारी दुनिया जीतने कि,काश  मैं भी किसी खूबसूरत पहाड़ी जगहों पर जा के बर्फ साथ के खेलूँ अपना एक स्नो मेन  बनाऊ या किसी समुद्र किनारे जाकर लहरों से अटखेलियां करू वहाँ सेंड हाउस बनाऊ लहरे उसे आकर तोड़े मैं फिर बनाऊ वो फिर तोड़े और यूँ ही शाम हो जाए और मै  फिर सूरज को उसी सागर में डूबता हुआ देखू
 
ख्वाइसे है बेहद बेहिसाब  बेपरवाह ,दुनिया घूमने कि ख्वाइशें हर इंसान के मन कि होती है ,किसी का शौक किसी कि आदत किसी कि ज़रुरत जब ढलती है तब हकीकत के सांचे में बनती है मोर्डेन दुनिया कि सबसे बड़ी सर्विस इंडस्ट्रीज  टूरिज्म  आइये देखते हैं इस ख्वाइश से हकीकत तक का सफ़र
 
दुनिया ईश्वर कि सबसे महानतम रचना में से एक है ये जीतनी बड़ी उतनी ही रंगीन और खुबसुरत  है जब  दुनिया इतनी खूबसुरत है तब इसके अलग अलग रंग देखने कि ख्वाइश ,और सारी दुनिया घूमने का शौक किस इंसान के मन में नहीं होगा कभी इस शौक ने तो कभी दुनिया जानने कि जिज्ञासा ने इंसान को हमेशा अपनी जद से बाहर निकलकर घूमने को उकसाया है जैसे जैसे इंसान के पास  संसाधन और टेक्नोलॉजी विकसित हुई यातायात (Transportation )आसान और बेहतर हुई छोटी -छोटी किस्तियों कि जगह शहर बराबर क्रूज़ ने समुद्र पर अपना राज़ जमा लिया जहां कभी जमीनी सफ़र  भी मुश्किल था वहाँ आज इंसान हवा में हवा से तेज  उड़ सकता है 
 
जब दुनिया भर में  टूरिज्म  इतना आगे निकल गया है तो भारत कैसे पीछे रह सकता है भारत् बिभिन्न संस्क्ृतियों का मेल है एक ऐसा देश जहां प्राकृति भी दोनों हांथो से खुबसुरती बांटती है  हिमालय से  थार तक  थार से  हिन्द महासागर तक भारत एक पेरफ़ेक्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशन है। यंहा डच ,फ्रेंच पोर्टगुई , ब्रिटिश अफगान तुर्कीस , मुग़ल जो भी भारत आया देता गया बेशकीमती और बेहतरीन इमारतें और लगाता गया इनकी खुबसुरती में नवरत्न।
 
आज भारत में टूरिज्म 6.8%का योगदान जीडीपी  में देता है और 8.78%रोज़गार का स्त्रोत है टूरिज्म 2014 में 5.78 बिलिओन सैलानी भारत आये और लगभग 250 बिलिओन डॉलर कि कमाई हुई  और 2018  तक इसके 375.5 % बिलिओन डॉलर तक पहुँचने कि उमीद  है 9.4 % के ग्रोथ रेट के साथ टूरिज्म हकीकत कि ज़मीन  पर बन गई भारत कि सबसे बड़ी सर्विस इंडस्ट्रीज जहां इन्वेस्टमेंट का मतलब है खरी कमाई और यही है आज इन्वेस्टर कि पहली पसंद देखा आपने केसे बन गया टूरिज्म फेवरेट मोस्ट फेवरेट इन्वेस्टमेंट मगर कोण रखेगा आपकी ख्वाइशों का ख्याल हम रखेंगे हम हैं

                                      NASWIZ HOLIDAYS PVT  LTD 

आप हॉलीडेज प्लांन कीजिये हम हकीकत में बदलेंगे हम आपके हर सपनो को पूरा करने का वादा करते हें और यही बनाता है हमें भारत कि हॉलीडेज फास्टेस्ट ग्रोइंग मैनेजमेंट कंपनी जो कि ISO परमाणित और भारत सरकार से रजिस्टर्ड और साथ ही टूर ऑपरेटर सर्टिफाइड है  किसी शायर कि कुछ पक्तियां कुछ इस कदर बयां करती है 
 
तेरे सपनो का सौदागर नहीं हूँ में 
फरिश्ता या जादूगर भी नहीं 
में बुलंद सोच का परवाना हूँ 
तेरी खुशियों का खजाना हू
 
आपके होलीडेज हम यूं ही मेनेज नहीं करते हम जानते हैं कि एक हॉलिडे प्लान करते वक्त कितने सवाल आपके मन में आते हैं  हॉलिडे केसा हो कब हो कँहा  हो और इन सब सवालो का जबाब देते हैं हमारे हॉलीडेज स्पेस्लिस्ट प्लानर कि टीम मगर डेस्टिनेशन कि बात आते ही जितने लोग उतनी पसंद किसी को चहिये लिसा पीस और मेंटलईस्ट  तो किसी को चहिये ज़बरदस्त शौपिंग यूथ को तो सिर्फ एडवेंचेर से ही मतलब है और अगर माता पिता  या दादा दादी से पूंछे तो  कुछ अध्यात्मिक फ्लवर भी होना चहिये और बच्चो को तो अपनी फैंटेसी दुनिया से ही मतलब है अब जाये तो जाये कँहा डोंटवोरी हमने आपके टेस्ट के लिए कुछ न कुछ तय कर रखा है ये तो कहना ही किया कि वो बेस्ट ही होगा अब PATAYA में पार्टी करनी हो या पशुपतिनाथ में पूजा देखते हैं हमारे डेस्टिनेशन कैसे आपकी जरूरतों पर पूरे उतरते  हैं हमने आपकी चॉइस जरूरतों को देखकर निर्धारित कि है  डेस्टिनेशन कि लम्बी लिस्ट जंहाँ घूमना एक अद्भुत अनुभव होगा
 
 


About the author

anant

Hello my name is Anant i am 45 years i working in a Govt Hospital as a Lab Technician i love my profession and i want beautiful world with beautiful thought

Subscribe 102
160